गुड लाइफ जीने के 10 तरीके

life is good goodlifetips गुड लाइफ जीने के 10 तरीके
पढ़ने के लिए समय चाहिए: 5 मिनट

अगर हम गहराई से देखें, तो हम सभी एक अच्छा जीवन जीने की चाह रखते हैं। मैं कभी भी ऐसे व्यक्ति से नहीं मिला जो यह कहता हो कि मुझे दुखी होना पसंद है। ऐसा शायद ही कोई होगा और अगर ऐसा कोई है, तो उसे अपनी आंखें खोलने की जरूरत है। ज़िंदगी खूबसूरत है। लेकिन हम इसे अपने लिए बुरा बनाने पर जोर देते रहते हैं।

आपके पास अपने जीवन के साथ कुछ भी करने की शक्ति है। यदि आप वर्तमान में एक अच्छा जीवन नहीं जी रहे हैं, तो यह आपके बारे में कुछ नहीं बताता है। शायद इसका मतलब यह है कि आपके सोचने का तरीका आपकी मदद नहीं कर रहा है।

एक अच्छा जीवन जीने के बारे में मैंने जो मुख्य सबक सीखा है, उनमें से यह एक है कि  यह सब आपके सोचने के तरीके या धारणा पर निर्भर करता है। जीवन को देखने का आपका नजरिया यह निर्धारित करता है कि आप क्या और कैसे (actions) करेंगे। आपका जीवन आपके कार्यों का सारांश ( summary )है। 

इसलिए यदि आप अपने कार्यों (और अपने जीवन) को बदलना चाहते हैं, तो बस अपने जीवन को देखने के तरीके को बदलें। यहां 10 सबक दिए गए हैं जिन्होंने मुझे ऐसा करने में मदद की। मुझे उम्मीद है कि वे आपकी भी उतनी ही मदद करेंगे, जितनी उन्होंने मेरी मदद की है। 

  1. उस चीज पर ध्यान केंद्रित करें जो आप चाहते हैं (उस पर नहीं जो आप नहीं चाहते हैं) –  
  • “मुझे आशा है कि मैं बीमार नहीं पडूंगा “
  • “मुझे आशा है कि मैं अपनी नौकरी नहीं खोऊंगा “
  • “मुझे आशा है कि वह मुझे नहीं छोड़ेगी “
  • “मुझे आशा है कि मैं अपना पैसा नहीं खोऊंगा “

    आप जो नहीं चाहते उस पर ध्यान देना बंद कर दें। आप जो चाहते हैं सिर्फ  उस पर ध्यान दें। यह आपको अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए सही दिशा में रखेगा।
  1. जो करना है अभी करें —हमें सिर्फ सोचना नहीं है , हम जो सोच रहें हैं हमें वो करना भी है। यहां तक कि यदि आप रोजाना मैडिटेशन करना चाहते हैं, तो कुछ मिनटों के लिए करने से   कोई लाभ नहीं होगा, आपको इसे निरंतर करना होगा।

    यह मान लेना की केवल अच्छे विचारों को सोचने भर से आपका जीवन बेहतर हो जाएगा एक बहुत बड़ी भूल होगी। आपको केवल सोचना नहीं है बल्कि आपको इसे निरंतर करना होगा।
  2. पहल दिखाएं– हमारी सहनशीलता कभी-कभी हमारे सिरदर्द का कारण बन जाती है। हम खुद कदम उठाने के बजाय सिर्फ परिस्थितियों को देखते रहते हैं । जब आपके काम में  कोई रूकावट पैदा हो, तो तुरंत कदम उठायें । एक उदाहरण सेट करें।

    वह क्या है इसकी चिंता ना करते हुए एक सही कदम उठाने वाले पहले व्यक्ति बनें। भीड़ का हिस्सा ना बनें बल्कि नए विचारों के साथ आगे आएं, सुझाव दें, नई चीजों को आजमाएं- पहल करें।

    पहल करने वाले बनें। पीछे लगने वाले नहीं।
  3. कुछ अलग करने वाले बनें—जब आप कुछ नया करते हैं, तो उस काम को करने वाले केवल एक  (unique ) बनें। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं, तो आप बस भीड़ का साथ देने वाला हिस्सा बन कर रह जाते हैं। बहुत से कलाकार और रचनाकार बस इस जाल में फंस कर रह जाते  हैं। उन्हें लगता है कि वे कुछ नया कर रहें है लेकिन वास्तव में वे सिर्फ पीछे लगने वाले (followers ) बन कर रह जाते हैं।
  4. सामने आयें  – अगर जीवन में कठिनाई चल रही है तो चुपचाप घर में बंद हो जाना ठीक नहीं है। अच्छा जीवन जीने के लिए आप दूसरी चीजों से मुंह नहीं मोड सकते। चाहे कैसी भी परिस्थितियाँ क्यों न हों, बुरे लोग, अच्छे लोग, दबाव, आरोप, सुख, दर्द, प्रशंसा, आलोचना, आदि सभी को व्यक्त करना चाहिए। समस्या कुछ भी हो, साँझा करें।
  5. उन चीजों को छोड़ दें जो काम नहीं कर रहीं हैं (लेकिन हार ना मानें ) –  लोग अक्सर आपसे कहेंगे कि आपको यह या वो नहीं छोड़ना चाहिए? अपने आप को इतनी गंभीरता से लेना बंद करें। एक अच्छा जीवन जीने के लिए सारी जिंदगी उन चीजों को छोड़ते रहें जो आपके लिए काम नहीं कर रही हैं। आप छोटे से हथौड़े से कंक्रीट की दीवार को नहीं तोड़ सकते? अगर कोई चीज काम नहीं कर रही है तो उसे तुरंत छोड़ें।

    पर चाहे कुछ भी हो जाए उस दीवार को गिराने की कोशिश करना मत छोड़ना। जाएँ और उसे तोड़ने के लिए एक बड़ा हथोड़ा (sledgehammer) ढूंढे।
  6. फिट और मजबूत रहें – मुझे बॉक्सिंग और मिक्स्ड मार्शल आर्ट पसंद है। योद्धा (fighters) दो प्रकार के होते हैं। उनमें से कुछ लड़ाई की तैयारी के लिए तीन महीने तक “कैम्प” में जाते हैं। वे अच्छा खाते हैं, दिन में कई बार प्रशिक्षण लेते हैं, और वे अपने प्रतिद्वंद्वी की वीडियोज़ देखते हैं और फिर कुछ ऐसे योद्धा हैं, जो हर समय “कैम्प” में रहते हैं। वे तैयारी नहीं करते हैं। परंतु, वे हमेशा तैयार रहते हैं। अपना जीवन बाद वाले उदाहरण की तरह जिएं। मजबूत रहें ताकि आप जीवन में आने वाली किसी भी चुनौती का सामना कर सकें।
  7. बीच -बीच में काम से ब्रेक लें – आप हर समय अपनी ऊर्जा का 100 % उपयोग नहीं कर सकते। ऊर्जा बनाये रखने के लिए, आपको आराम भी करना चाहिए ताकि आप तरोताज़ा हो सकें। (मैं Hustle Culture का बहुत बड़ा fan नहीं हूँ )

    कोई भी दिन में 18 घंटे काम नहीं करता है। आराम करने के लिए समय निकालने के बारे में रणनीतिक बनें। दिन भर में छोटे-छोटे ब्रेक लें और सालभर में एक आध लम्बे ब्रेक भी लें।
  8. निराशावादी लोगों को नज़रअंदाज़ करें—निराशावादी लोग आपको हर जगह मिल जायेंगे। अक्सर वह आपका मित्र, परिवार या यहां तक कि आपका जीवनसाथी भी हो सकता है। वे कुछ भी बेहतर नहीं जानते हैं। उन्हें अनदेखा करें। जरूरी नहीं है कि निराशावादी व्यक्ति बुरा हो।
  9. अपने आप को याद दिलाते रहें कि आप क्या चाहते हैं – हम भुलक्कड़ प्राणी हैं। आप महीनों तक सभी सही काम करते रहते हैं और अचानक आप जाग जाते हैं और सोचते हैं, “मुझे अपने जीवन को कैसे जीना चाहिए? “

    आपको अपने आप को बार-बार याद दिलाना चाहिए कि आप एक अच्छा जीवन किसे मानते है। आप अपने आस पास  ऐसे लोगों (ऑनलाइन या ऑफलाइन) का घेरा बना सकते हैं, जो आपको जीवन की महत्वपूर्ण चीजों की याद दिलाते रहें। 

अगर आप इसे ईमानदारी से देखें तो एक अच्छा जीवन जीना आसान है। लेकिन कई साधारण चीजों की तरह, इसे लागू करना कठिन है।

मुझे अच्छा लगता है जब लोग कहते हैं कि “बोलना, करने से आसान है”  (Easier said than done.)

यही सौ बात की एक बात है. इसलिए केवल पढ़ें या बोलें नहीं बल्कि उसे करें (So don’t just read or say it; do it!)

P.S. - We are so thankful to Darius for giving us permission to translate few of his best posts in Hindi. Now, Hindi lovers can read his amazing articles in Hindi & check the amazing work he is doing. Thanks a lot, Darius 🙏

Link to the original article: https://dariusforoux.com/good-life/

Darius Foroux
Darius Foroux
Darius Foroux is the author of 7 books, and the creator of 6 online courses. He writes about productivity, business, and wealth building. His ideas and work have been featured in TIME, NBC, Fast Company, Inc., Observer, and many more publications.
Translate
error: Sorry, the content is protected !!