neem for skin and hair नीम से बढ़ाएं सुंदरता
पढ़ने के लिए समय चाहिए: 3 मिनट

नीम त्वचा और बालों की देखभाल के लिए बहुत फायदेमंद है, यह त्वचा और बालों से संबंधित ज्यादातर समस्याओं को दूर करने में मदद करती है। एंटी-इंफ्लेमटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होने के कारण नीम को ज्यादातर कॉस्मेटिक उत्पादों में मुख्य रूप से उपयोग किया जाता है। नीम मुंहासों, रूसी को कम करती है, महीन रेखाओं और झुर्रियों को कम करने में मदद करती है। बालों और त्वचा की सभी समस्याओं को प्राकृतिक रूप से ठीक करने के लिए नीम का उपयोग किया जा सकता है। 

 कील-मुहासों के लिए 

नीम का उपयोग मुंहासों को ठीक करने के लिए किया जा सकता  हैं, इसमें एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो मुहासों को फैलने से रोकते हैं और उन्हें ठीक करने में मदद करते हैं, दर्द और खुजली से भी राहत दिलाते हैं।

  • मुंहासों के लिए नीम के पत्तों का पेस्ट मुंहासों पर रात को सोने से पहले लगाएं और रात भर लगा रहने दें, सुबह सादे पानी से चेहरा धो लें। 
  • पानी में नीम की कुछ पत्तियों को रात भर भीगा रहने दें, इस पानी का उपयोग चेहरे को धोने या संक्रमण से बचने के लिए नहाने के लिए करें।
  • मुहासों के लिए नीम का फेस पैक बनाने के लिए नीम के पत्तों और संतरे के छिलके को बराबर मात्रा में पानी में उबाल लें। जब छिलका और पत्ते नरम हो जाएं तो उन्हें निकालकर बारीक पीस लें। पेस्ट में थोड़ा सा शहद और नींबू का रस मिलाएं। इस पैक को अपने चेहरे पर लगाएं और 20 मिनट बाद पानी से धो लें। हफ्ते में दो बार इस नीम फेस पैक का इस्तेमाल करें। 

काले धब्बे और निशानों को कम करने के लिए

नीम खून को साफ़ करने में मदद करता है, यह त्वचा को धूप, पिग्मेन्टेशन और अन्य कारणों से होने वाले काले धब्बों से मुक्त करने में मदद करता है। नीम के पत्तों को रोज सुबह चबाकर खाने, इसके पानी से नहाकर या नीम का इस्तेमाल मुंहासों के लिए करने से काले धब्बे और निशान कम होने लगते हैं। 

व्हाइटहेड्स और ब्लैकहेड्स के लिए

 नीम से व्हाइटहेड्स और ब्लैकहेड्स से भी छुटकारा पाया जा सकता है, क्योंकि यह बड़े छिद्रों को सिकोड़ती है और गंदगी को बाहर निकालने और छिद्रों को कसने के लिए एक्सफ़ोलीएटिंग एजेंट के रूप में काम करती है। नीम का फेस मास्‍क बनाने के लिए 2 चम्‍मच नीम के पाउडर को थोड़े से पानी में मिलाकर पेस्‍ट बना लें, फिर इसमें एक चुटकी हल्दी पाउडर मिलाकर चेहरे पर लगाएं, 20 मिनट बाद चेहरा गुनगुने पानी से धो लें।

त्वचा की असमान रंगत के लिए (uneven skin tone)

नीम त्वचा की रंगत को भी निखारती है। नीम में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट त्वचा के मेलेनिन उत्पादन को कम करने में मदद करते हैं, जो त्वचा की टोन को समान करने में मदद करता है। यह त्वचा पर काले धब्बे, निशान और किसी भी प्रकार की लाली को भी कम करती है। 

क्लींजिंग नीम फेस मास्क बनाने के लिए नीम के लगभग 10 -12 पत्ते लें और पानी मिलाकर पीस ले। इस पेस्ट में 2 चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर चेहरे पर लगाएं। 20 मिनट बाद चेहरा पानी से धो लें। इस पैक का रोजाना इस्तेमाल करें जब तक निशान साफ़ नहीं हो जाते। 

त्वचा के संक्रमण (skin infection) के लिए 

एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और एंटी-वायरल गुण होने के कारण, नीम से त्वचा के संक्रमण का इलाज किया जा सकता है, यह त्वचा में जलन ,सूजन इत्यादि को ठीक करने में मदद करती है।     

नीम की पत्तियों को पानी में उबाल लें। जब पत्ते नरम हो जाएं तो उन्हें छान लें। नीम के इस पानी से नहाने से त्वचा के इंफेक्शन दूर हो जाते हैं।

रूसी के लिए नीम 

नीम न सिर्फ डैंड्रफ ठीक करती है, बल्कि स्कैल्प के रूखेपन और खुजली से भी छुटकारा दिलाती है।

एंटी डैंड्रफ नीम पैक बनाने के लिए आप नीम के पाउडर को थोड़े से पानी में मिलाकर पेस्ट बना लें, इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं और 30 मिनट तक लगा रहने दें ,फिर सादे पानी से धो लें। आप पानी में नीम की पत्तियों को उबाल कर भी प्रयोग कर सकते हैं, पत्तियां उबाल कर पानी को छान लें और बालों में शैंपू करने के बाद इस पानी से बालों को धो लें, इससे डैंड्रफ से छुटकारा मिलेगा।

सिर की त्वचा के संक्रमण के लिए 

नीम बालों के स्वास्थ्य में सुधार करती है और किसी भी प्रकार के स्कैल्प संक्रमण का इलाज करने में सहायक है। इसके एंटी-बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण किसी भी प्रकार के स्कैल्प इन्फेक्शन को ठीक करने में मदद करते हैं और साथ ही रूखे सूखे बालों  में चमक लाने के लिए कंडीशन का काम भी करते हैं।

Anju Mangy
Anju Mangy
पाक कला, रेसिपी और नैचरल ब्यूटी सम्बन्धी विषयों की जानकार: ....और जानें
Translate
error: Sorry, the content is protected !!