कुछ विशेष भोजन खाने की इच्छा क्यों होती है ?

कभी-कभी कुछ विशेष स्वाद या भोजन खाने की इच्छा होती है, जैसे – नमकीन चिप्स, चॉक्लेट या कुछ और उस विशिष्ट स्वाद या भोजन के लिए यह इच्छा के साथ शारीरिक या भावनात्मक कारक जुड़े हो सकते हैं। 

किस स्वाद के साथ कौन सा कारण जुड़ा है, यह जानकर समस्या को सुलझाने में मदद मिल सकती है।आइये यहाँ जानते हैं कि किस स्वाद के साथ कौन सा कारण जुड़ा हो सकता है।

1. नमकीन चीज़ खाने की इच्छा क्यों होती है ? 

यदि आपको नमक खाने की इच्छा होती है, तो इसका कारण आयरन की कमी हो सकती है। आयरन एक महत्वपूर्ण मिनरल है। आयरन की कमी होने का मतलब है कि शरीर में पर्याप्त आयरन नहीं है और आप थका हुआ और कमजोरी महसूस कर सकते हैं। नमक खाने की इच्छा का कारण डिहाइड्रेशन भी हो सकता है।

बहुत अधिक तनाव होने पर शरीर न केवल मानसिक और भावनात्मक रूप से, बल्कि शारीरिक रूप से भी प्रतिक्रिया करता है, इससे नमकीन खाद्य पदार्थों के लिए क्रेविंग हो सकती है।

नमक खाने की इच्छा होने पर क्या करें  

1. आयरन की कमी है या नहीं, यह जानने के लिए पहला कदम यह है कि आयरन के स्तर की जांच करवाए।

2. यह जानने के लिए की यह इच्छा डिहाइड्रेशन के कारण तो नहीं है, पहले खुद को हाइड्रेट करें और देखें कि क्या वह लालसा को शांत करता है।

2. मीठे की इच्छा (शुगर क्रेविंग ) के कारण 

शुगर क्रेविंग काफी आम है और यह दिन में कभी भी हो सकती है। यदि बार-बार कैंडी या मीठा खाने का मन होता है, तो इसका कारण थकान , तनाव या भूख हो सकती है। शरीर ऊर्जा बढ़ाने के लिए चीनी मांगता है।

शुगर क्रेविंग होने पर क्या करें 

सबसे पहले देखें कि क्या आपने सुबह का नाश्ता छोड़ा है, अच्छी नींद नहीं ली, या जीवन में तनाव का अनुभव कर रहे हैं। यदि इनमें से किसी भी प्रश्न का उत्तर हाँ है, तो चीनी खाने की इच्छा के कारणों से निपटने में मदद मिलेगी। पर्याप्त नींद लें, स्वस्थ नाश्ता करें, तनाव से निपटने की कोशिश करें।

3. कार्बोहाइड्रेट खाने की इच्छा के कारण ? 

कार्बोहाइड्रेट के सेवन को सेरोटोनिन (खुश, अच्छा महसूस कराने वाला हार्मोन) के उच्च स्तर से जोड़ा गया है। शरीर को सेरोटोनिन बूस्ट करने की आवश्यकता हो सकती है और रोटी, पाव, ब्रेड, पास्ता इत्यादि खाने की इच्छा होती है।

कार्बोहाइड्रेट खाने की इच्छा का समाधान

यदि सामान्य से अधिक बार कार्ब्स खाने की इच्छा होती है, तो जानने की कोशिश करें कि भावनात्मक रूप से आप कैसा महसूस कर रहे हैं। क्या यह वास्तव में वह मूड बूस्ट के कारण है, तो व्यायाम या मूड ठीक करने के अन्य उपाय अपनाकर स्वस्थ तरीके से इसे पूरा किया जा सकता है।

4. चॉकलेट खाने की इच्छा क्यों?

चॉकलेट की इच्छा का एक कारण शरीर में मैग्नीशियम की कमी हो सकती है, जो एक आम कमी है, डार्क चॉकलेट वास्तव में एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होती है, जो स्वास्थ्य में सुधार कर सकती है और हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकती है। इसका अन्य कारण शरीर को मूड बूस्ट की आवश्यकता हो सकती है।

महिलाओं में चॉकलेट खाने की इच्छा प्रीमेंस्ट्रुअल चरण के दौरान हार्मोन में परिवर्तन के कारण हो सकती है।

चॉकलेट की इच्छा होने पर क्या करें

चॉकलेट कुछ पोषण लाभ भी प्रदान करती है – जैसे कि यह  मैग्नीशियम का एक प्राकृतिक स्रोत है -चॉकलेट की इच्छा को पूरा करने के लिए डार्क चॉकलेट को चुनें या प्राकृतिक कोको पाउडर से स्मूदी इत्यादि बनायें।

5. चीज़ खाने की इच्छा क्यों होती है ?

आम तौर पर चीज़ खाने की इच्छा कई लोगों की होती है। यह इच्छा तब होती है, जब शरीर आराम चाह रहा हो। चूँकि चीज़ और ग्रिल्ड चीज़ जैसे व्यंजन आराम देने वाले भोजन हैं।

चीज़ खाने की इच्छा का समाधान

चीज़ में अमीनो एसिड ट्रिप्टोफैन होता है, जो मेलाटोनिन और सेरोटोनिन बनाने में सहायता करता है, जिससे आराम या नींद आने में मदद मिलती है। 2016 में प्रकाशित एक अध्ययन में सामने आया कि ट्रिप्टोफैन का निम्न स्तर उदासी का कारण बन सकता है। ट्रिप्टोफैन की कमी होने पर उसे पूरा करने की कोशिश करें। भोजन में सीड्स और नट्स भी शामिल करें। 

विभिन्न खाद्य पदार्थों की लालसा शरीर में चल रही बड़ी चीजों का एक संकेतक हो सकते हैं। खाद्य पदार्थों की इच्छा का कारण जानकर स्वास्थ्य को बेहतर रखने में मदद मिल सकती है।   

Recommended For You

Avatar

About the Author: Kusum Kaushal

कुसुम कौशल ने उत्तराखंड में स्थित विश्वविद्यालय (हेमवती नंदन बहुगुणा यूनिवर्सिटी) से इकोनॉमिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। हिंदी उनकी मूल भाषा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
Table of Content