गाजर सेहत के लिए वरदान है, जानिये गाजर खाने के फायदे

ऑस्ट्रेलिया के कुछ डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने अपने शोध में पाया है कि गाजर में अनेक तत्व हैं जो शरीर को बीमारियों से लड़ने के लिए प्रेरित करते हैं । इसके सेवन से ऐसी शक्ति आ जाती है जिससे चमड़ी के कैंसर से बचा जा सकता है ।ऑस्ट्रेलिया के एक डॉक्टर के अनुसार गाजर पेट में पहुंचकर कुछ समय बाद विटामिन ‘ ऐ ‘बन जाती है जिससे मानव शरीर में रोगों से लड़ने की शक्ति बढ़ जाती है ।

पोषक तत्व

गाजर सबसे स्वास्थ्यप्रद खाद्य पदार्थों में से एक है जो अधिकतम और उच्चतम गुणवत्ता वाले पोषक तत्व प्रदान करती है। यह विटामिन ए, विटामिन सी, डी, ई, के, बी 1 और बी 6 का उत्कृष्ट स्रोत है। यह बायोटिन, पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, कार्बनिक सोडियम और कुछ ट्रेस मिनरल्स  से समृद्ध है। 

गाजर दुनिया की सबसे स्वादिष्ट सब्जियों में से एक है। इसके विभिन्न व्यंजन बनाकर खाये जा सकते हैं। स्वादिष्ट होने के साथ- साथ इसके अद्भुत व् बेहतरीन स्वास्थ्य लाभ भी हैं।

गाजर खाने के फायदे

  • हृदय रोग की रोकथाम: अगर गाजर को नियमित रूप से खाया जाता है,तो यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करती है। हृदय पर दबाव को कम करती है ताकि रक्त संचार अच्छा रहे और हृदय रोग का खतरा कम हो। 
  •  ब्लड प्रेशर को नियमित करती है : गाजर में मौजूद पोटेशियम ब्लडप्रेशर को नियंत्रित करने में मदद करता है।  
  • इम्युनिटी बढ़ाती है : गाजर एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी से भरपूर होती हैं। यह तत्व श्वेत रक्त कोशिकाएं को लाभ पहुंचाते हैं और शरीर को बीमारी से बचाने में सहायक होते हैं। विटामिन सी बढ़ती उम्र के हानिकारक प्रभावों से बचाने में मदद करता है।
  •  पाचन में सहायक : गाजर में फाइबर होता है जो पाचन तंत्र के लिए अद्भुत होता है। फाइबर कब्ज को कम करने और कोलोरेक्टल कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों को कम करने में मदद करता है। फाइबर धमनियों और रक्त वाहिकाओं से कोलेस्ट्रॉल को हटाकर हृदय स्वास्थ्य को बढ़ाता है।
  • कैंसर से बचाती है  : गाजर में पाया जाने वाला बीटा-कैरोटीन कैंसर से लड़ने वाला एजेंट है। यह फेफड़ों के कैंसर, पेट के कैंसर और यहां तक कि स्तन कैंसर के खतरे को कम करता है। 
  • नेत्र स्वास्थ्य में सुधार: मैक्यूलर डिजनरेशन एक नेत्र रोग है जिसके कारण लोगों की उम्र के अनुसार दृष्टि खराब हो जाती है। बीटा-कैरोटीन मैक्यूलर डिजनरेशन के जोखिम को कम करता है। यह विटामिन ए के उत्पादन में मदद करता है, जो एक एंटीऑक्सिडेंट है यह दृष्टि में सुधार करने और रतौंधी को रोकने में सहायक होता है।
  • डायबिटीज को नियंत्रित रखती है : गाजर में कैरोटेनोइड रक्त शर्करा को कम करती है और इंसुलिन और स्वस्थ ग्लूकोज उत्पादन को बढ़ावा देती है। यह स्वस्थ वजन का प्रबंधन करने में मदद करती है।
  • मुँहासे ठीक करने में प्रभावी: इसके शक्तिशाली क्लींजिंग गुण लीवर को डिटॉक्सीफाई करने में प्रभावी हैं, इस प्रकार ये मुँहासे ठीक करने में प्रभावी होती हैं जो रक्त की विषाक्तता के कारण होते है।
  • त्वचा सम्बन्धी समस्याओं के लिए फायदेमंद : गाजर के रस में मौजूद विटामिन सी और अन्य पोषक तत्व त्वचा को पोषण देते हैं।
  • एनीमिया: गाजर रक्त-निर्माण में बहुत फायदेमंद होती है।
  • गाजर के सेवन से शरीर को ऊर्जा प्राप्त होती है व् सेहत और सुंदरता बढ़ती है ।

Recommended For You

Avatar

About the Author: Kusum Kaushal

कुसुम कौशल ने उत्तराखंड में स्थित विश्वविद्यालय (हेमवती नंदन बहुगुणा यूनिवर्सिटी) से इकोनॉमिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। हिंदी उनकी मूल भाषा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
Table of Content