dandruff isssue goodlifetips रूसी ( Dandruff ) से छुटकारा पाने के आसान उपाय
पढ़ने के लिए समय चाहिए: 6 मिनट

रूसी क्या है ?

डैंड्रफ की समस्या बहुत ही आम समस्या है, जिससे बहुत से लोग परेशान रहते हैं, इससे पहले कि हम रूसी से छुटकारा पाने के कुछ घरेलू आसान उपाय जाने, हम समझते हैं, की वास्तव में रूसी क्या है ?

डैंड्रफ या रूसी  – जिसे ’डर्मेटाइटिस’ या ’सेबोर्रहिया’ के नाम से भी जाना जाता है। यह न केवल सिर की त्वचा को प्रभावित करती है, बल्कि भौहों, कान, पुरुषों में उनकी दाढ़ी को भी प्रभावित करती है। छोटे बच्चों में भी रूसी की समस्या देखी जाती है। 

रूसी आमतौर पर खोपड़ी पर सूखी और परतदार त्वचा के रूप में दिखाई देती है, कभी-कभी रूसी वाले क्षेत्र पर त्वचा लाल या गुलाबी रंग की हो जाती हैं, जिसमे थोड़ी सूजन भी हो सकती हैं, कई मामलों में सफेद, परतदार त्वचा के साथ जलन और खुजली भी हो सकती है। 

कुछ विशेष प्रकार का मौसम भी रूसी को बदतर बना देता हैं। कुछ लोगों के लिए यह नमी, जबकि कुछ के लिए यह शुष्क सर्दियों का मौसम हो सकता है, जो रूसी की समस्या को बढ़ा देता है।

रूसी होने के कारण क्या हैं?

  • ड्राई स्किन डैंड्रफ के सबसे आम कारणों में से एक है। यदि सूखी त्वचा आपके रूसी का कारण है, तो इसका पता आप आसानी से लगा सकते हैं, क्यंकि ड्राई स्किन होने पर आपके शरीर के अन्य स्थानों की त्वचा भी सूखी होगी। 
  • रूसी का एक बहुत ही सामान्य कारण मालासेज़िया ग्लोबोसा नामक फंगस है। जो ज्यादातर सिर की त्वचा पर तेल से पलता है। 
  • रूसी होने के कारण हर व्यक्ति में भिन्न हो सकते हैं, जिसमे सबसे आम कारण तैलीय त्वचा है। 
  • स्कैल्प की सफाई ना रखना और पर्याप्त शैम्पू न करना, जिससे त्वचा की कोशिकाएं जमा हो जाती है। यह रूसी और खुजली पैदा करतीं हैं। 
  • हार्मोनल परिवर्तन भी एक कारण हो सकता है, क्योंकि युवाओं में रूसी की समस्या सबसे अधिक होती है। 
  • बालों की देखभाल के उत्पादों के प्रति संवेदनशीलता भी एक कारण है। 
  • अन्य त्वचा सम्बन्धी समस्या, जैसे कि सोरायसिस और एक्जिमा।  

डैंड्रफ से छुटकारा कैसे पाएं

कुछ लोगों में रूसी होने का खतरा अधिक होता है, और कई बार यह विकार रूप ले लेती है। उचित साफ़ सफाई बनाये रखकर हम इसे नियंत्रित कर सकते है। यहां हम डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए कुछ आसान घरेलू उपाय बता रहे हैं –

एलोवेरा, रूसी से छुटकारा पाने का प्राकृतिक उपाय 

एलोवेरा पानी से भरा हुआ होता है, इसे जलने की स्थिति के इलाज में मददगार माना जाता है। एलोवेरा में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं, यह स्कैल्प में डैंड्रफ के कारण होने वाली सूजन को ठीक करने में मदद करता है।

आप ताजा एलोवेरा जेल स्केल्प पर लगा सकते हैं, या प्राकृतिक शैंपू का उपयोग कर सकते हैं, जिसमें एलोवेरा हो।

गुनगुने गरम तेल से उपचार 

रूसी की रोकथाम और नियंत्रण के लिए यह एक उपयोगी घरेलू उपचार है। इससे स्कैल्प के सूखेपन से राहत मिलती है और खोपड़ी के डैंड्रफ के कारण बंद हुए छिद्र खुल जाते हैं।

जैतून या नारियल का तेल लें, और इसे गुनगुना गर्म कर लें,  कॉटन बॉल की मदद से स्कैल्प पर रगड़ते हुए तेल लगाएं ताकि रूसी हट जाये।    

फिर एक तौलिया लें, और इसे गुनगुने पानी में पूरी तरह से डुबोएं और अच्छी तरह निचोड़ ले, इस तौलिये को सिर के चारों ओर लपेटे और 5 मिनट तक लगा रहने दें। इस प्रक्रिया को 3 – 4 बार दोहराएं। रात भर तेल लगा रहने दें, बेहतर परिणाम के लिए अगली सुबह नींबू के रस का उपयोग करके इसे धो लें।

रूसी और खुजली से छुटकारा पाने के लिए बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा हमारी रसोई में अक्सर होता ही है। यह मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने और खोपड़ी की खुजली को कम करने के लिए एक अत्यंत सौम्य एक्सफोलिएंट के रूप में काम करता है। डैंड्रफ हटाने के लिए बेकिंग सोडा का उपयोग करने के लिए, गीले बालों में बेकिंग सोडा लगाएं और इससे अपने स्कैल्प में मालिश करें। इसे एक या दो मिनट के लिए लगा रहने दें, फिर अपने बालों को शैम्पू से धो लें। 

नीम के पत्ते

फंगल संक्रमण के इलाज के लिए कुछ ऐसी चीज़ों की आवश्यकता होती है, जिसमें एंटी -बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण हों। नीम के पत्ते बालों से रूसी हटाने के लिए बढ़िया उपाय है।

5 कप गर्म पानी में दो मुट्ठी नीम के पत्ते डालकर रात भर भीगे  रहने दें। अगली सुबह इसे छान लें और इस पानी से बाल धोएं। खोपड़ी को संक्रमण और खुजली से राहत देने के लिए यह बहुत अच्छा उपाय है। 

रूसी के लिए नींबू 

स्वाभाविक रूप से रूसी से छुटकारा पाने के लिए नींबू,का उपयोग किया जाता है। नींबू का रस डैंड्रफ के लिए अविश्वसनीय है, क्योंकि यह अम्लीय होता है, इसलिए रूसी पैदा करने वाले फंगस को ख़त्म करता है और ऑइली स्कैल्प की समस्या को भी दूर करता है।

दो चम्मच ताजा नींबू के रस को एक कप पानी में मिलाएं इससे अपने स्कैल्प की मालिश करें, और इसे एक मिनट के लिए लगा रहने दें, फिर साफ़ पानी से धो लें सप्ताह में दो बार ऐसा करने से कुछ ही दिनों में इस समस्या से छुटकारा मिल जायेगा। 

डैंड्रफ दूर करने के लिए एप्पल साइडर सिरका

एप्पल साइडर सिरका मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने और खोपड़ी के पीएच को संतुलित करने में मदद करता है। यह फंगस को रोकता है। एप्पल साइडर सिरका के दो से तीन बड़े चम्मच को समान मात्रा में पानी के साथ मिलाएं, फिर इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं और कुछ मिनटों के लिए लगा रहने दें, फिर बालों को शैम्पू से धो लें। 

मेथी के बीज

मेथी के बीज बालों से जुड़ी किसी भी समस्या के समाधान के लिए सबसे अच्छे प्राकृतिक तत्वों में से एक है।

1 बड़ा चम्मच मेथी के बीज को बारीक पीस लें। इसे दो कप ठंडे पानी में भिगोकर रात भर छोड़ दें। सुबह इसे छान लें और इस पानी का उपयोग बाल शैम्पू से धोने के बाद आखिरी रिन्स (rinse ) के लिए करें। 

डैंड्रफ और डर्मेटाइटिस के लिए टी ट्री ऑइल

टी ट्री ऑइल में एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो रूसी को कम करने में मदद करते हैं।

यह फंगस से लड़ने में बहुत प्रभावी है, जो रूसी का कारण बनता है। उपयोग करने से पहले इसे पानी मिलाकर पतला करना जरूरी है, क्यूंकि संवेदनशील त्वचा वाले लोगों में यह जलन पैदा कर सकता है। 

डैंड्रफ हटाने के लिए अपने बालों को बार-बार शैम्पू करें

जिन लोगों में अत्यधिक तैलीय स्केल्प के कारण रूसी हैं, यह आवश्यक है कि आप अपने बालों को अधिक बार धोएं। सप्ताह में कम से कम दो या तीन बार शैम्पू से धोएं पर कम शैम्पू और अधिक पानी से धोने की सलाह दी जाती है। यदि आप एक हल्के हर्बल शैम्पू का उपयोग करते हैं. तो बेहतर होगा।

स्वस्थ स्केल्प के लिए एक स्वस्थ आहार खाएं

स्वस्थ आहार कई समस्याओं को हल करने में मदद करता है, जिसमें रूसी भी शामिल है। संतुलित आहार, विशेष रूप से प्रोबायोटिक्स में समृद्ध आहार, ऊपर बताये गए उपायों के अतिरिक्त, रूसी को कम करने में अविश्वसनीय रूप से सहायक हो सकता है। इसके अलावा, अपने बालों को आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करने के लिए अपने आहार में हरी सब्जियों को शामिल करें। 

ओमेगा -3 फैटी एसिड त्वचा के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं। ओमेगा -3 फैटी एसिड की कमी से सूखी त्वचा, शुष्क बाल और यहां तक कि रूसी हो सकती है। ओमेगा -3 फैटी एसिड युक्त खाद्य पदार्थों जैसे फ्लैक्ससीड, चिया सीड्स और अखरोट का सेवन करें।

डैंड्रफ का हमारे स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव पड़ता है?

यदि रूसी लम्बे समय तक बनी रहती है, तो यह कई समस्याओं का कारण बनती है, जैसे बालों का गिरना, सफ़ेद होना इत्यादि।

बाल झड़ना –  लम्बे समय तक डैंड्रफ का बने रहना बालों के झड़ने का मुख्य कारण होता है। रूसी और ड्राईनेस के कारण होने वाली खुजली के कारण बालों के स्ट्रैंड्स और उनके रोम क्षतिग्रस्त हो जाते हैं और इसके परिणामस्वरूप बालों के स्ट्रैंड्स टूटने और गिरने लगते हैं।

मुंहासे – डैंड्रफ पिंपल्स के फैलने के लिए जिम्मेदार हो सकती है। अत्यधिक रूसी होने पर वह बाल बनाते वक्त झड़कर चेहरे या माथे पर आ सकती है, यह मुहासों की समस्या को बदतर कर सकती है। 

आँखों की समस्याएं – रूसी के गंभीर मामले माथे और आंखों के लिए समस्या पैदा कर सकते हैं – उदाहरण के लिए, सेबोरहाइक ब्लेफेराइटिस आंखों का एक संक्रमण है जो खोपड़ी और भौं के रूसी के कारण हो सकता है। जिससे आंखों के चारों ओर की त्वचा लाल हो जाती है।

खुजली और चिपचिपी स्कैल्प – कभी-कभी, रूसी की शुरुआत स्कैल्प पर बहुत अधिक तेल बनने के कारण होती है, इससे स्केल्प पर असहनीय खुजली होती है।

Kusum Kaushal
Kusum Kaushal
इंग्लिश टू हिंदी ट्रांसलेटर और ब्लॉगर : ....और जानें
Translate
error: Sorry, the content is protected !!