masale मसालों की शुद्धता की जांच
पढ़ने के लिए समय चाहिए: 2 मिनट

लाल मिर्च पाउडर

मिलावट: कृत्रिम रंग, ईंट पाउडर

जाँच : एक गिलास पानी में एक चम्मच मिर्च पाउडर मिलाएं और इसे हिलाएं। अगर चमकदार लाल रंग का एक भंवर दिखाई देता है तो कृत्रिम रंग की उपस्थिति है जबकि गिलास के नीचे तले में किरकिरा तलछट सा दिखाई देता है तो ईंट पाउडर की मिलावट है।

धनिया  पाउडर

मिलावट : भूसी

जाँच : एक गिलास पानी में एक चम्मच धनिया पाउडर मिलाएं और हिलाएं। भूसी तुरंत सतह पर तैरने लगेगी जबकि शुद्ध मसाला गिलास के निचले हिस्से में बैठ जाएगा।

जीरा पाउडर

मिलावट: घास के बीजों को चारकोल डस्ट से रंगकर मिलावट,बुरादे की मिलावट

परीक्षण: एक गिलास पानी में एक चम्मच जीरा पाउडर मिलाएं और इसे कुछ मिनटों तक ऐसे ही पड़ा रहने दें। मिलावट सतह पर तैरने लगेगी, जबकि शुद्ध मसाला गिलास के नीचे बैठ  जाएगा।

दूसरी ओर, जीरा में अक्सर घास के बीजों की मिलावट की जाती हैं जिन्हें चारकोल डस्ट के साथ लेप दिया जाता है। जीरे को अपनी हथेलियों से जोर से रगड़ें। यदि आपकी हथेलियां काली हो जाती हैं, तो यह मिलावट की गई है।

काली मिर्च

मिलावट: पपीते के बीज

टेस्ट: एक कटोरी शराब में कुछ काली मिर्च के दाने  मिलाएं। पपीते के बीज डूब जाएंगे जबकि असली काली मिर्च के दाने तैरते रहेंगे।

सरसों के बीज

मिलावट: आर्गमन बीज

टेस्ट: कुछ बीजों को क्रश करें  या दबाएं और उन्हें जांचें। आर्गमन के बीज बाहर से कठोर होते हैं और अंदर से सफेद होते  है जबकि सरसों के बीज बाहर से मुलायम है और अंदर से पीले होते  है।

सरसों का तेल

मिलावट: आर्गेमोन तेल

टेस्ट: एक पारदर्शी ग्लास में थोड़ी मात्रा में सरसों का तेल लें और उसमें कुछ बूंदें नाइट्रिक एसिड की मिलाएं। तेज़ी  से हिलाएं और मिश्रण को 2-3 मिनट तक गर्म करें। लाल रंग की उपस्थिति आर्गेमोन तेल की मिलावट को बताती है।

चाय

मिलावट: प्रयुक्त /प्रोसेस्ड चाय की पत्तियाँ जो कृत्रिम रूप से रंगी गयी  हैं

टेस्ट : एक नम ब्लोटिंग पेपर पर एक चम्मच चाय पाउडर छिड़कें। यदि ब्लॉटिंग पेपर का रंग पीले, नारंगी या लाल रंग में  बदलता है, तो यह चाय पाउडर में कृत्रिम रंग की उपस्थिति को इंगित करता है। शुद्ध चाय की पत्तियां केवल तब रंग छोड़ती हैं, जब उन्हें गर्म पानी में मिलाया जाता है।

हल्दी की शुद्धता की जाँच

बेहतर नतीजे प्राप्त करने के लिए यह जरूरी है जी हमें शुद्ध चीज़े मिलें हल्दी की शुद्धता को हम घर पर जाँच सकते हैं। कांच के गिलास में गुनगुना पानी लीजिये और उसमें एक छोटा चम्मच हल्दी मिलाकर हिलाये बगैर ऐसे ही छोड़ दीजिये तक़रीबन २० से २५ मिनट बाद गिलास को चेक करें अगर पूरा हल्दी पाउडर नीचे तले में बैठ गया है और पानी साफ़ दिखाई दे रहा है तो हल्दी शुद्ध है उसमे कोई मिलावट नहीं है अगर पानी धुंधला है तो उसमे कुछ मिलावट हो सकती है ।

Kusum Kaushal
Kusum Kaushal
इंग्लिश टू हिंदी ट्रांसलेटर और ब्लॉगर : ....और जानें
Translate
error: Sorry, the content is protected !!