स्वास्थ्य के लिए गन्ने की जादुई विशेषताएं

sugercane स्वास्थ्य के लिए गन्ने की जादुई विशेषताएं
पढ़ने के लिए समय चाहिए: 3 मिनट

गन्ने के जादुई गुणों को जानकार आप चौंक जाएंगे। इसके कुछ गुणों में यह शामिल हैं -उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करना, वजन घटाने में मदद करना ,रक्त शर्करा के स्तर को नियमित करना, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करना, तनाव से राहत, हृदय स्वास्थ्य को दुरुस्त रखना , गुर्दे की पथरी की समस्या से लड़ना, दंत स्वास्थ्य में मदद करना और पाचन में सुधार करना।

गन्ने में काफी मात्रा में  एंटीऑक्सिडेंट होते है इसलिए यह संक्रमण से लड़ने और रक्षा करने में मदद करता है। यह आयरन, मैग्नीशियम, कैल्शियम और अन्य इलेक्ट्रोलाइट्स से समृद्ध है, इसलिए यह डीहाइड्रेशन को ठीक करने के लिए बहुत अच्छा है। यह सामान्य सर्दी और अन्य संक्रमणों को ठीक करने में मदद करता है और बुखार को ठीक करने में मदद करता  है क्योंकि यह शरीर के प्रोटीन के स्तर को बढ़ाता है।

 शरीर को तुरंत ऊर्जा  प्रदान करता है

गन्ने के रस के लाभों में से एक यह है कि यह हमें ऊर्जावान बनाने और डीहाइड्रेशन को दूर करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। गन्ने का रस हमारे शरीर में आसानी से लीन हो जाता है क्योंकि इसमें सरल शर्करा(शक्कर ) होती है।

लिवर के कार्य को बेहतर बनाता है

गन्ने का रस पीलिया जैसे जिगर से संबंधित बीमारियों के लिए फ़ायदा पहुंचाता है। यह अपने क्षारीय गुणों के कारण शरीर में इलेक्ट्रोलाइट के स्तर को बनाए रखने में भी मदद करता है। 

कैंसर से लड़ने में शरीर की मदद करता है

गन्ने में  कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, आयरन और मैंगनीज की अधिक मात्रा होने के कारण यह उसे क्षारीय(एल्कलाइन) गुण प्रदान करते हैं।यह सभी गुण उसमे मजूद  flavonoids के साथ मिलकर कैंसर कोशिकाओं को दूर रखने में मदद करते है, विशेष रूप से स्तन और प्रोस्टेट जैसे कैंसर में । 

पाचन तंत्र को बेहतर बनाता है  

पाचन संबंधी परेशानियों से पीड़ित व्यक्ति को अपने आहार में गन्ने के रस को शामिल करना चाहिए। गन्ने के रस में पोटेशियम की मात्रा पेट के पीएच स्तर को संतुलित करती है, जो पाचन तंत्र को बनाए रखते हुए पाचन रस के स्राव को मैनेज करता है। यह शरीर को पेट के संक्रमणों से भी दूर रखता है। 

गुर्दे के स्वास्थ्य को बनाए रखता है

चूंकि गन्ने के रस में कोलेस्ट्रॉल ,सोडियम और वसा की मात्रा निम्न होती है,इसलिए यह गुर्दे के स्वास्थ्य को सबसे वांछित तरीके से सुरक्षित रखता है।

हड्डियों और दांतों के लिए फायदेमंद है

कैल्शियम से भरपूर होने के कारण , गन्ने का रस स्केलेटन सिस्टम , हड्डियों और दांतों के समुचित विकास में सहायक होता है।

 मुंह की दुर्गंध और दांतों की सड़न को दूर करता है

गन्ने का रस  कैल्शियम और फास्फोरस, जैसे खनिजों का एक समृद्ध स्रोत है ,यह दातों के एनेमल  के निर्माण में मदद करता है। यह दांतों को मजबूत करने और जहां तक की दातों की सड़न को दूर करने में मदद करता है । गन्ने का रस आवश्यक पोषक तत्वों की पूर्ति करके सांसों की दुर्गन्ध को दूर करने में भी मदद करता है।

यूटीआई (UTI ) से संबंधित दर्द से राहत देता है

यदि गन्ने के रस को नीबू के रस और नारियल के पानी के साथ मिलकर पिया जाए, तो यह, मूत्र पथ के संक्रमण, गुर्दे की पथरी और प्रोस्टेटाइटिस से जुड़ी जलन को कम करने में मदद करता है। 

मुँहासे को ठीक करने में मदद करता है

गन्ने का रस त्वचा की समस्याओं जैसे मुंहासों को ठीक करने में मदद करता है। गन्ने के रस में ग्लाइकोलिक एसिड जैसे की अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (AHA) होते हैं, जो सेल टर्नओवर को बढ़ाते हैं। वे त्वचा को साफ करते हैं, इस प्रकार यह मुँहासे आने की सम्भावना को कम करता है।

मुहासों के लिए मुल्तानी मिटटी में गन्ने के रस को मिला कर पेस्ट बना लें ,इसे चेहरे पर 15 – 20 मिनट के लिए लगा रहने दें, फिर  चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

शरीर के अंगों को मजबूत बनाता है

गन्ने के रस का नियमित सेवन हमारे महत्वपूर्ण अंगों को मजबूत बनाने में सहायता करता है ताकि वे अच्छी तरह से और अन्य अंगों के साथ काम कर सकें।

चूंकि गन्ने का रस आवश्यक शर्करा से भरा होता है, यह हमारे अंगों को मजबूत करने में मदद करता है।

Kusum Kaushal
Kusum Kaushal
इंग्लिश टू हिंदी ट्रांसलेटर और ब्लॉगर : ....और जानें
Translate
error: Sorry, the content is protected !!