त्वचा के लिए चंदन के गुण

आपने अपनी माँ और दादी-नानी से त्वचा की देखभाल के लिए चंदन के बारे में सुना होगा। आइये दादी-नानी के सौंदर्य नुस्खों में शामिल इस चमत्कारी सामग्री से आपको परिचित कराते हैं। यह अपनी खुशबू और कायाकल्प गुणों के लिए जाना जाता है और प्राचीन आयुर्वेदिक ग्रंथों में त्वचा की देखभाल के लिए इसका वर्णन किया गया है।

चंदन के पेस्ट से त्वचा को अद्भुत फायदे होते हैं। यह त्वचा के तैलीयपन, मुहांसों, मुहांसों के निशानों को दूर करता है और शरीर की दुर्गंध को दूर करने का एक अद्भुत उपाय है।

 

त्वचा के लिए चंदन के फायदे

सुंदरता के लिए सदियों से चंदन का उपयोग किया जाता आ रहा है। इसे कई धर्मों में पवित्र माना जाता है और समारोहों में इसका उपयोग किया जाता है। यह पीढ़ियों से प्रचलित है और सुंदरता को बढ़ाने में काफी लोकप्रिय है। 

1. तैलीय त्वचा में तेल को नियंत्रित करता है

त्वचा के लिए चंदन का महत्वपूर्ण लाभ यह है कि यह सीबम उत्पादन को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसमें कसैले गुण होते हैं जो त्वचा को पोषण देते हैं और छिद्रों को बहुत अधिक तेल उत्पन्न करने से रोकते हैं, इससे छिद्रों के बंद होने और मुहासे होने की संभावना भी कम हो जाती है।

2. मुँहासों के लिए 

त्वचा के लिए चंदन का एक लाभ यह है कि यह मुँहासे ठीक करने में लाभदायक है। आयुर्वेद में बताया गया है कि चंदन पित्त को कम करता है और त्वचा को ठंडक और आराम देता है। इसके अलावा इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, इसलिए यह मुंहासों का इलाज करने में सक्षम है।

3. झुर्रियों को कम करता है

चंदन एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो उम्र बढ़ने के लक्षणों से लड़ने में मदद करते हैं। यह झुर्रियों और महीन रेखाओं को कम करने में मदद करता है। इसमें त्वचा की परतों को हाइड्रेट करने और लचक बढ़ाने की क्षमता है, जिसके कारण त्वचा युवा दिखती है।

4. दाग-धब्बों को कम करता है 

त्वचा दाग-धब्बों को कम करने में मदद करता है। चंदन में त्वचा की लचक में सुधार करने की क्षमता होती है – त्वचा में कसावट लाने का मतलब है दाग-धब्बे कम करना।

5. इसमें एंटी-टैनिंग गुण होते हैं

त्वचा की टैनिंग से छुटकारा पाने के लिए चंदन एक बेहतरीन उपाय है। चंदन पाउडर, शहद, नींबू का रस और दही को मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे चेहरे पर लगाएं और 15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर चेहरा धो लें। 

6. त्वचा की रंगत को एकसमान करता है

आयुर्वेद के अनुसार, त्वचा का रंग एकसमान ना होना अक्सर शरीर में मौजूद अतिरिक्त गर्मी का परिणाम होता है। चंदन का ठंडा और शांत प्रभाव होता है। त्वचा के लिए चंदन के फायदों में से एक यह है कि यह त्वचा की रंगत को एक समान करता है।

7. शरीर की दुर्गंध का घरेलू उपचार

शरीर की दुर्गंध के लिए चन्दन अद्भुद उपाय है। गर्मी, शारीरिक गतिविधि या व्यायाम आदि के कारण पसीना आता है और जब हमारी त्वचा में बैक्टीरिया पसीने के संपर्क में आते हैं, तो यह शरीर में गंध पैदा करते हैं। समस्या तब शुरू होती है जब पसीना अधिक आने लगता है और जिस व्यक्ति को अधिक पसीना आता है, उसके शरीर से लगातार दुर्गंध आती रहती है।

चंदन के पेस्ट में संतरे के छिलके का पाउडर मिलाएं और मुलायम पेस्ट बना लें। यह पेस्ट मुंहासों को भी रोकता है और चेहरे पर लगाने से मुंहासों के दाग भी कम हो जाते हैं और बहुत तैलीय त्वचा वाले लोगों के लिए यह बहुत अच्छा है। इस पेस्ट का उपयोग त्वचा को साफ करने के लिए साबुन के स्थान पर किया जा सकता है, इसे शरीर की दुर्गंध से छुटकारा पाने के लिए भी नियमित रूप से प्रयोग करना होगा, जब तक कि शरीर की दुर्गंध से राहत न मिल जाए।

चंदन का फेस पैक कैसे बनायें 

चंदन का फेस पैक बनाने के लिए – 1 चम्मच चंदन पाउडर और गुलाब जल की कुछ बूंदों को अच्छी तरह मिलाकर पेस्ट बना लें। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं और पूरी तरह सूखने दें और फिर सादे नल के पानी से इसे धो लें।

रूखी त्वचा के लिए चंदन का उपयोग

यदि आपकी त्वचा रूखी और दागदार है, पोषण गुणों के कारण यह शुष्क त्वचा के लिए भी उपयुक्त है। इसमें त्वचा के लिए दोहरे लाभ हैं, न केवल त्वचा के असंतुलन में सुधार होता है बल्कि शुष्क त्वचा के लिए त्वचा देखभाल उत्पादों में भी प्रयोग किया जाता है। 

1 बड़ा चम्मच चंदन पाउडर और 1 चम्मच गुलाब की पत्तियों के पाउडर को दूध के साथ मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे चेहरे और गर्दन पर लगाएं और 15 मिनट के लिए छोड़ दें। मुलायम, कोमल त्वचा के लिए इसे सप्ताह में एक या दो बार लगाएं।

तैलीय त्वचा के लिए चंदन का उपयोग 

चंदन के एस्ट्रिंजेंट और एंटीसेप्टिक गुण त्वचा से अतिरिक्त नमी को साफ करते हैं, मुँहासे ठीक करते हैं, और दाग को हल्का करते हैं।

1 चम्मच नारियल पाउडर में 1 चम्मच चंदन पाउडर मिलाएं और इसमें थोड़ा टमाटर का रस मिलाएं। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और 10 मिनट के लिए लगा रहने दें फिर ठंडे पानी से धो लें।

Recommended For You

Anju Mangy

About the Author: Anju Mangy

अंजु मैंगी ने होम साइंस और फाइन आर्ट्स विषयों के साथ स्नातक में डिग्री प्राप्त की। उसके बाद हेमवती नंदन बहुगुणा विश्वविद्यालय से समाजशास्त्र में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
Table of Content