benefits of mango स्वास्थ्य के लिए आम है, बहुत ख़ास।
पढ़ने के लिए समय चाहिए: 5 मिनट

Health benefits of mango.

आम दुनिया के सबसे मीठे फलों में से एक है। गर्मी का मौसम सभी का पसंदीदा फल आम को भी लेकर आता है, जिसे फलों का राजा कहा जाता है। आम को सिर्फ स्वादिष्ट फल होने के कारण ही फलों का राजा नहीं कहा जाता, बल्कि इसके स्वास्थ्य सम्बन्धी लाभों और इसके पोषक तत्वों के कारण कहा जाता है। यह न केवल स्वादिष्ट होता है, बल्कि गर्मियों के मौसम में स्वास्थ्य सम्बन्धी बहुत सारी चुनौतियां का सामना करने में हमारी मदद करता है। आम को विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर माना जाता है। यह इम्युनिटी को बढ़ाने में सहायक होता है और साथ ही पाचन स्वास्थ्य और आंखों की रोशनी में भी सुधार करता है। 

आम के स्वास्थ्य लाभ इसके पोषक तत्वों में पाए जाते हैं। आम विटामिन और मिनरल्स का एक समृद्ध स्रोत हैं। आम में विटामिन ए (बीटा-कैरोटीन), विटामिन ई और सेलेनियम होता है, जो हृदय रोग और अन्य बीमारियों, जैसे कोलन और सर्वाइकल कैंसर से बचाव में मदद करता है। आम विटामिन ए , सी और पोटेशियम का एक बड़ा स्रोत है, जो रक्तचाप, मांसपेशियों के संकुचन को नियंत्रित करने और शारीरिक प्रक्रियाओं को सही ढंग से काम करने में मदद करता है। आम में मौजूद आयरन की उच्च मात्रा एनीमिया से पीड़ित लोगों और गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद होती है। आम में विटामिन ई भी होता है, जो हार्मोनल सिस्टम को अधिक कुशलता से काम करने में मदद करता है।

एंटीऑक्सिडेंट हमारे भोजन में पोषक तत्व होते हैं जो हमारे शरीर को ऑक्सीडेटिव क्षति को धीमा करने या निवारक एजेंट के रूप में काम करते हैं। आम एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। इसमें फिनोल नामक एक एंटीऑक्सीडेंट होता है। जिसे शक्तिशाली एंटीकैंसर माना जाता है।

आम में 20 से अधिक विभिन्न विटामिन और मिनरल होते हैं, जो इसे एक सुपरफूड बनाते हैं। एक कप (165 ग्राम) कटा हुआ आम प्रदान करता है, लगभग – 

  • कैलोरी : 99
  • प्रोटीन : 1.4 ग्राम
  • डाइट्री फाइबर : 2.6 ग्राम
  • कार्ब्स : 24.7 ग्राम
  • शुगर : 22.5 ग्राम
पोषक तत्व वयस्कों में दैनिक आवश्यकता का प्रतिशत( लगभग )
विटामिन सी67% 
कॉपर20%
फोलेट18%
विटामिन बी611.6%
विटामिन बी56.5%
विटामिन एपुरुषों के लिए 9.9% महिलाओं के लिए 12.73%
विटामिन ई  9.7%
विटामिन केपुरुषों के लिए 5.77% महिलाओं के लिए 7.7%
पोटैशियम  6%
नियासिन  7%
राइबोफ्लेविन  5%
थायमिन  4%
मैगनीशियम4%

आम के स्वास्थ्य सम्बन्धी लाभ   

  1. इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है।

विटामिन ए और सी से भरपूर होने के कारण आम इम्यून सिस्टम के उचित रखरखाव में सहायता करता है, यह सर्दी या फ्लू को दूर रखने में भी मदद करता है और हमे फिट रखता है। यह स्वस्थ त्वचा और म्यूकोसल झिल्ली को बनाए रखने में मदद करता है, जिससे त्वचा के माध्यम से हानिकारक रोगजनकों के प्रवेश को सीमित किया जा सकता है।

2. श्वसन संबंधी समस्याओं को ठीक करता है।

रिसर्च में यह साबित हुआ है, कि बीटा-कैरोटीन धूम्रपान करने वालों में क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिसऑर्डर (COPD), ब्रोंकाइटिस और सांस की तकलीफ को दूर करने में मदद करता है। आम बीटा कैरोटीन का एक समृद्ध स्रोत होने के कारण श्वसन संबंधी विकारों को ठीक करने और रोकने में मदद करता है। विटामिन सी के साथ बीटा-कैरोटीन को लेना फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है, जिससे सांस संबंधी समस्याओं जैसे ब्रोंकाइटिस, अस्थमा और वातस्फीति से बचाव होता है।

3. पाचन में सहायक

आम में फाइबर अधिक होता है, जिससे वे उचित पाचन में सहायता करते हैं और पाचन से सम्बंधित किसी भी समस्या को भी रोकते हैं। आम में मौजूद कुछ एंजाइम प्रोटीन को तोड़ने में मदद करते हैं, जिससे पाचन तंत्र को ठीक से कार्य करने में मदद मिलती है। 

4.सेल फंक्शन में सुधार करता है।

इसमें मौजूद विटामिन सी शरीर में सेल के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करता है। विटामिन सी इम्यून सिस्टम के कार्य, स्ट्रांग कनेक्टिव टिश्यू और स्वस्थ ब्लड वेसल वाल्स के लिए आवश्यक है।

5. एनीमिया के लिए  

आम में आयरन की मात्रा अधिक होती है इसलिए ये एनीमिया के इलाज में भी मदद करता है । शरीर में आयरन और कैल्शियम के स्तर को बढ़ाने के लिए आम खाने की सलाह दी जाती है।

6. स्वस्थ त्वचा 

आम विटामिन सी और ए से भरपूर होते हैं, जो त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ाते हैं और त्वचा की रिपेयर करने में मददगार हैं। आम बढ़ती उम्र के संकेतों को कम करते हैं। आम डेड पोर्स को  हटाने में भी सहायक होते हैं।

7. स्वस्थ्य बालों के लिए 

विटामिन सी, विटामिन ए और पॉलीफेनोल एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर आम स्वस्थ बालों के लिए आश्चर्यजनक गुण प्रदान करता है। जबकि विटामिन सी कोलेजन बनाने में सहायता करता है (एक प्रमुख प्रोटीन जो बालों के स्ट्रैंड की दृढ़ संरचना को बनाए रखता है)।  विटामिन ए सीबम स्राव को उत्तेजित करके स्केल्प को नमी प्रदान करता है। इसके अतिरिक्त, पॉलीफेनोल एंटीऑक्सिडेंट बालों के विकास, मोटाई को बढ़ाने और रेशमी बनाने में मदद करता है।

8. याददाश्त तेज़ करता है।

ग्लूटामाइन- आम में मौजूद एक महत्वपूर्ण अमीनो एसिड मस्तिष्क के 2 सबसे आवश्यक न्यूरोट्रांसमीटर- ग्लूटामिक एसिड और गामा-एमिनोब्यूट्रिक एसिड (जीएबीए) को बढ़ाकर मस्तिष्क की कार्यप्रणाली को बढ़ाने में मदद करता है। ग्लूटामाइन मस्तिष्क को पोषण देता है और उसे ऊर्जा प्रदान करता है, जिससे दिमाग सतर्क और तेज़ होता है। ग्लूटामिक एसिड एकाग्रता बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

9. वजन घटाने में सहायक 

आम अतिरिक्त वजन को कम करने में मदद करता है। फाइबर से भरपूर होने के कारण यह शरीर से अवांछित कैलोरी को बर्न करता है। यह पाचन तंत्र को मज़बूत करता है, जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है।

10. आंखों के लिए 

विटामिन ए से भरपूर होने के कारण आम आंखों की रोशनी में सुधार करने में मदद करता है। आम में मौजूद कुछ पोषक तत्व आंखों को सूरज की हानिकारक किरणों से भी बचाते हैं।

11. दिल की सेहत के लिए

आम में मौजूद फाइबर, पोटैशियम और विटामिन की मात्रा दिल को स्वस्थ रखने में मदद करती है। यह धमनियों के समुचित कार्य में मदद करता है। आम में मौजूद कुछ घटक रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मदद करते है। पेक्टिन और विटामिन सी के साथ ये घटक एलडीएल (खराब कोलेस्ट्रॉल) स्तर, ऑक्सीकृत लिपिड और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद करते हैं, जबकि रक्त में एचडीएल (अच्छे कोलेस्ट्रॉल) के स्तर को बरकरार रखते हैं, जिससे हृदय की रक्षा होती है।

12. नर्वस सिस्टम के फंक्शन को बढ़ाता है।

आम में विटामिन बी6 यानी पाइरिडोक्सिन प्रचुर मात्रा में होता है, जो मस्तिष्क के सामान्य विकास के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। नियमित रूप से इसका सेवन स्मृति, ध्यान, बुद्धि को बढ़ाता है। इसके अलावा, आम में मनोभ्रंश (dementia ) , अल्जाइमर, दौरे, अवसाद और चिंता के जोखिम को कम करने के लिए मैंगिफेरिन, गैलोटैनिन जैसे न्यूरोप्रोटेक्टिव यौगिक होते है, जिनमे एंटी इंफ्लेमटरी गुण होता है।

13. शरीर को क्षारीय करने में मदद करता है।

चूंकि आम में टार्टरिक और मैलिक एसिड होते हैं और साइट्रिक एसिड के अंश होते हैं, यह हमारे शरीर  को क्षारीय करने में मदद करता है। 

आम को पानी में भिगोना क्यों जरूरी है ?

आम में फाइटिक एसिड नामक एक प्राकृतिक कण है, जो कई नट्स में भी मौजूद होता है। आम को कम से कम आधे घंटे के लिए पानी में भिगो दें। इससे अतिरिक्त फाइटिक एसिड निकल जाता है। यह विटामिन और मिनरल्स को एब्सॉर्ब करने में रूकावट करता है।

Kusum Kaushal
Kusum Kaushal
इंग्लिश टू हिंदी ट्रांसलेटर और ब्लॉगर : ....और जानें
Translate
error: Sorry, the content is protected !!