होम मेड फ्रूट एवं वेजिटेबल वाश

फलों का अधिकतम लाभ लेने के लिए उन्हें छिलके समेत खाना चाहिए  पर उनपर कीटनाशको का  छिड़काव होने के कारण और आज कल तो कोरोना के वायरस के डर के कारण हम कोई भी फल छिलके समेत खाने से पहले सोचते  है । हमेशा जैविक फल प्राप्त करना कठिन है।

कीटनाशक के छिड़काव के कारण कई लोगों को कुछ प्रकार की ऐलर्जी हो जाती है और ये कीटनाशक हमारी सेहत पर बुरा प्रभाव भी डालते है। हम चाहते है की कोई ऐसा तरीका हो जिससे हम अपने फलों को आसानी से घर में ही कोई उपाय अपनाकर कीटनाशको से सुरक्षित बना ले क्योंकि केमिकल वाला कोई एक तरीका कीटनाशकों को तो हटा देगा पर कोई दूसरे केमिकल की परत उन पर चढ़ा देगा।

 यह नुस्खा बहुत अच्छा है, क्योंकि  यह काफी प्रभावी है। होममेड फ्रूट और वेजिटेबल वॉश की इस रेसिपी में सिरका और नींबू का रस है। सिरका फलों के ऊपर से कीटनाशक को हटाने में बढ़िया काम करता है।

इसे बनाने के लिए आप एक हिस्सा सिरका और तीन या चार हिस्से पानी के मिलाएं उदाहरण के लिए अगर एक चम्मच सिरका ले रहे है तो तीन – चार चम्मच पानी के मिलाएं  इसे ज्यादा पानी मिलाने पर यह कम असरदार होगा इसलिए अनुपात यही रखें। 

इस को बनाने के लिए गैर सिंथेटिक सिरके या सफ़ेद सिरके का उपयोग करें। आप इससे फलों को धो सकते हैं और इसे स्प्रे बोतल में स्टोर करके भी रख सकते हैं।

उपयोग करने के लिए,आप फलों और सब्जियों पर अच्छी तरह इसे स्प्रे करें  इसे 10-15  मिनट के लिए फलों पर लगा रहने दें , फिर फलों को अच्छी तरह से साफ़ पानी से धो लें ।

अपने फ्रूट्स और सब्जियों को इस होममेड फ्रूट अवं वेजिटेबल वॉश से धोने की कोशिश करें। यह प्रक्रिया कीटनाशक में काफी हद तक कमी कर देती है, कीटनाशक मुक्त फलों और सब्जियों का आनंद ले।

आप इसे ज्यादा मात्रा में बनाकर स्प्रे बोतल में स्टोर कर के भी रख सकते हैं।

बनाने की विधि

सिरका – एक कप

 पानी  –   3 -4  कप 

 नीबू का रस -दो चम्मच 

इसे बनाने के लिए आप एक कप सिरका लें , अब इसमें चार कप पानी मिला लें फिर इसमें दो चम्मच नीबू का रस मिला लें और अच्छी तरह से हिलाएं ,इस घोल को स्प्रे बोतल में भरकर फ्रिज में रख ले आप का होम मेड फ्रूट अवं वेजिटेबल वॉश बनकर तैयार है ,जरूरत पड़ने पर इस्तेमाल करें।

Recommended For You

About the Author: Kusum Kaushal

कुसुम कौशल ने उत्तराखंड में स्थित विश्वविद्यालय (हेमवती नंदन बहुगुणा यूनिवर्सिटी) से इकोनॉमिक्स में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है। हिंदी उनकी मूल भाषा है।
Translate »